कुतुब मीनार, 45 लोगों की गई थी जान