उस वनडे मैच में 885 रन पर ऑल आउट, लेकिन टीम सिर्फ 3 रन से जीत हासिल करने में सफल रही।